विचार करो कि आप 6 दिन बाद परीक्षा में बैठने जा रहे है । आपको पांच विषयों की तैयारी करनी है । आप निम्नलिखित में से कौन सा तरीका अपनायेंगे ?

तरीका 1 : एक दिन में एक विषय पढ़ा जाए तथा छठे दिन अंतिम रूप से सभी विषय दोहराये जाए ।

तरीका 2 : सभी विषयों की संयुक्त रूप से पढ़ा जाए जैसे दो घंटे गणित , फिर अगले दो घंटे इतिहास आदि । आइये विश्लेषण करें तथा दिमाग को समझें ।

विश्लेषण

जब हम कोई खास विषय मसलन गणित पढ़ते हैं तो दिमाग का एक खास भाग अन्य भाग की अपेक्षा अधिक काम करने लगता है । जब हम इतिहास की ओर ध्यान देते हैं तो दिमाग का दूसरा भाग काम करने लग जाता है तथा गणित पढ़ने वाला भाग आराम में लग जाता है । इस प्रकार , विषय बदलकर पढ़ने से दिमाग के विशेष भाग को बारी – बारी से ताजा होने का अवसर मिल जाता है तथा हमें थकान महसूस नहीं होती ।

परिणाम

अगर हम पूरे दिन एक ही विषय को पड़ें तो दिमाग के खास भाग पर अधिक दबाव बनता है जो कि किसी भी सूरत में अवांछनीय है ।

इसलिए सभी विषयों को बदल – बदलकर संयुक्त रूप में पढ़े । जैसे दो से तीन घंटे गणित पढ़ने के बाद , भूगोल । फिर अगले दो घंटों में अन्य विषय ।

महत्वपूर्ण संकेत : विषयों का संयुक्त चयन ।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat